top post

प्रतियोगी परीक्षा में सफलता कैसे पाये?

दोस्तों, आज जिस तरह से हर कोई युवा कोई न कोई प्रतियोगिता की परीक्षा दे रहा है और सभी लोग सफलता की दौड़ में लगे हुए है कुछ लोग इस दौड़ में सफलता प्राप्त कर लेते हैं तो कई लोग इस दौड़ में पीछे छूट जाते हैं। दोस्तो सफलता हासिल करने का पहला मन्त्र है कड़ी मेहनत, कड़ी मेहनत का कोई शार्टकट नहीं होता है। प्रतियोगी परीक्षाओं में अगर सफल होना चाहते हैं तो आपको अपना सर्वश्रेष्ठ देना होगा। अगर अाप इन बातों को ध्यान में रखकर पढ़ाई करेंगे तो अवश्य सफलता प्राप्त करेंगे:-
1- जो भी पढ़े मन लगाकर पढ़े :- दोस्तों, कई घंटे पढ़ने से अच्छा है कि आप कुछ घंटे ध्यान लगाकर पढ़ार्इ करें, अगर आप 10 से 12 घण्टे पढ़ते है और आपको इन 10,12 घण्टे में 50 प्रतिशत ही याद हो, तो यह बिल्कुल गलत है, कुछ देर ही सही पर मन को एकाग्र रखकर पढ़ाई करें, जिससे आाप जो भ्ाी पढ़े, वह 100 प्रतिशत याद हो जाए। हमेशा खुश रहने की कोशिश करें, यह आपको तनाव से भी बचाएगा। इससे पढ़ाई में भ्ाी मन लगेगा और आप बेहतर परिणाम देने में कामयाब हो पायेगें।

2- सलेबस के अनुसार तैयारी करें :- दोस्तों, हर परीक्षा में प्रश्न सलेबस के अनुसार ही पूछे जाते हैं आपके लिए बेहतर होगा कि आप जिस परीक्षा की तैयारी कर रहे हैं, उसके सलेबस का गहन अध्ययन करें। अगर आप सलेबस के अनुसार पढ़ाई करते हैं तो आप परीक्षा में जरूर अच्छा करने में कामयाब हो जायेंगे। अक्सर स्टूडेन्ट सलेबस को नजर अंदाज करके शार्टकट अपनाते हैं इस तरह के स्टुडेन्ट पढ़ाई करने के बावजूद अपने लक्ष्य नहीं प्राप्त कर पाते हैं अगर आपको सफल होना है तो आपको सलेबस के अनुसार ही पढ़ना होगा। अगर आप सलेबस के अनुसार पढ़ाई करेंगें तो आपको सफलता प्राप्त करने से कोई नहीं रोक सकता है।
3- प्रतिदिन अभ्यास करें :- दोस्तों, अगर आप अब्जेक्टिव्स टाईप की परीक्षा दे रहे हैं तो आपके लिए समय मैनेजमेन्ट अहम है, इसके अभाव में आप किसी भी परीक्षा में सफलता प्राप्त नहीं कर सकते हैं, यह एक दिन में संभव नही है यह तभी संभव है, जब आप इसका निरन्तर अभ्यास करते रहें। आपके लिए बेहतर होगा कि आप जिस परीक्षा की तैयारी कर रहे हैं सलेबस के अनुसार पहले उसकी तैयारी करें और तैयारी हो जाने के बाद पिछले 10 वर्षों के प्रश्नों को लेकर निर्धारित समय सीमा के अन्दर खूब अभ्यास करें, पिछली परीक्षा में पूछे गये प्रश्नों का अभ्यास करने से आपको परीक्षा पैटर्न के बारे में जानकारी मिलेगी और समय रहते अपनी कमियां को जानने का अवसर भी मिलेगा। अगर आप अपनी कमजोरियों को जानकर समय रहते उसे दूर कर लेते हैं और उसके बाद परीक्षा देते हैं तो आपके सफलता के चान्सेस काफी बढ़ जाते हैं।
4- आत्मविश्वास है बहुत जरूरी :- दोस्तों, किसी भी कार्य को करने के लिए आत्मविश्वास होना बहुत ही जरूरी होता है। जब बात आ जाए प्रतियोगिता परीक्षा की तैयारी करने के लिए तो इसकी भूमिका और भी अहम हो जाती है। इसलिए प्रतियोगिता परीक्षा की तैयारी करते समय अपने अन्दर कभी-भी आत्मविश्वास की कमी न होने दें। अपने मन में विश्वास बनाकर रखें कि हम भी प्रतियोगिता परीक्षा पास कर सकते हैं। आत्मविश्वास को बढ़ाने के लिए सबसे अच्छा तरीका है कि आप खुद से सवाल करें कि मैं क्यों यह परीक्षा पास करना चाहता हूं, मुझे क्यों यह बनना है, जिस दिन आपको क्यों का सही-सही उत्तर मिल जायेगा। उसी दिन आप सफल हो जायेंगें। इस प्रकार प्रतियोगिता परीक्षा के लिए आत्मविश्वास बहुत ही जरूरी होता है।
5- समय सारिणी बनाना है जरूरी :- दोस्तों यदि आप प्रतियोगिता परीक्षा की तैयारी कर रहें हैं तो आपके लिए समय सारिणी बनाना बहुत ही जरूरी है। समय सारिणी का प्रयोग करने से आपका कोई भी विषय पेडिंग नहीं छूटेगा। समय सारिणी बनाने से आप सभी विषय पर ध्यान दे सकते हैं। तथा जो विषय आपका कमजोर है, उसे आप ज्यादा समय दे सकते हैं, जिससे समय रहते आप अपने सलेबस को कवर कर सकते है। जब आपका सब विषय मजबूत हो जाएगा तो आपका आत्मविश्वास भी बढ़ जायेगा। फिर आपको सफलता से कोई नहीं रोक सकता है।
6- पढ़ाई हेतु सामग्री है जरूरी :- किसी भी परीक्षा की तैयारी के लिए उससे संबंधित आपके पास विषय वस्तु का होना बहुत जरूरी है। यदि उससे संबंधित आपके पास विषय-वस्तु नहीं है तो आप प्रतियोगिता परीक्षा कभी भी पास नहीं कर सकते हैं। आप स्टडी रूम में प्रतियोगिता परीक्षा से संबंधित सभी बुक्स तथा अन्य सामग्री को पास में ही रखना चाहिए। जिससे आवश्यकता पड़ने पर आसानी से उसका लाभ उठाया जा सके। जब आपके पास सलेबस के अनुसार बुक्स होगी, तभी आप अच्छी तैयारी कर सकते है और फिर आपको सफल होने से कोई नहीं रोक सकता है।
7- नोट्स बुक बनाना है जरूरी :- यदि आप नियमित पढ़ाई कर रहे हैं तो नोट्स तैयार करना आपके लिए बहुत जरूरी है प्रतियोगिता परीक्षा के तैयारी करते समय यह जरूरी होता है कि जो भी आपने पढ़ा या समझा है वह कुछ समय बाद भूल सकता है। इसलिए प्रतियोगिता परीक्षा के लिए नोट्स बनाना बहुत जरूरी है नोट्स बनाते समय कुछ बाते अपने ध्यान में अवश्य रखें। जैसे – नोट्स को साफ-सुथरे और आसान भाषा में बनायें, भाषा में ज्यादा जटिलता नहीं होनी चाहिए। क्योंकि उससे आपको दोहराते समय समझने में समस्या आ सकती है। नोट्स बनाने के तुरन्त बाद उन टाॅपिक्स को एक बार ध्यानपूर्वक अवश्य पढ़े। जिससे याद करने में आपको आसानी होगी। आप अच्छे से याद कर पायेंगें।
8- स्वास्थ्य का ध्यान रखना :- दोस्तों यदि आप जो भी कुछ पढ़ते हैं तो आपके समझ में जल्दी आ जाये, और उसे जल्दी से याद कर ले। इसके लिए आपके स्वास्थ्य का अच्छा होना बहुत जरूरी है, क्यूंकि अगर आप स्वास्थ्य रहेंगे तो आप जो कुछ भी पढ़ेगे तो जल्दी समझ आने के साथ-साथ जल्दी याद भी होगा। और आप अच्छा महसूस करेंगें।
9- प्रतियोगिता परीक्षा के समय में ध्यान देने योग्य बातें :- दोस्तों, परीक्षा समय पास आ जाने पर पुराने प्रश्न पत्रों को हल करें, जिसका फायदा आपको परीक्षा हॉल में देखने को मिलेगा। स्वयं की कमियाें को देखें। दिए गए समय में प्रश्न पत्र को हल करें। जिससे आपके अन्दर प्रश्न पत्र को हल करने में गति प्राप्त होगी। परीक्षा हॉल में समय प्रबंधन का विशेष महत्व होता है इसलिए परीक्षा देने के पूर्व ही समय प्रबंधन बना लें। और यह निश्चित कर लें कि आपको किस खण्ड में कितना समय देना है। सभी खण्डों में समय प्रबंधन के अनुसार ही समय दें। किसी भी परीक्षा में निगेटिव मार्क्स से बचना सबसे मुख्य होता है। इसलिए गलत प्रश्न न करें सही प्रश्नाें के उत्तर ही दें।
दोस्तों, आप इन ट्रिक को अपना कर सफलता अवश्य प्राप्त कर सकते हैं महान लोगों ने इसे कई बार साबित भी किया है कि इस दुनिया में कुछ भी असंभव नहीं है । इसलिए इस बात में यकीन करना शुरू कर दें, कि आप भी सफल होकर दिखायेगें और जिस दिन आपने सफल होने की ठान ली। उस दिन आपको सफलता प्राप्त करने से कोई नहीं रोक सकता है। और आप सफलता का एक नया इतिहास लिख देंगें। धन्यवाद

No comments